होम Health सांप काटने पर बचने के उपाय 10 अचूक उपाय

सांप काटने पर बचने के उपाय 10 अचूक उपाय

हम आपको बता दें जब सांप काट लेता है तो सांप काटने पर बचने के उपाय तुरंत करने चाहिए  वरना तो उसका जहर बहुत ही ज्यादा जहरीला होता है उसके कारण व्यक्ति की तुरंत मौत हो सकती है सांप कई तरह के हो सकते हैं अगर सांप अधिक काला है

आपको काट लिया है तो उससे तुरंत मौत नहीं होती है अधिक काले सांपों की खाने से ज्यादा जहरीली मौत हो जाती है सांपों के मुंह के अंदर की थैली होती है जब वह किसी को काटते हैं तो उसमें से जहर निकलता है

जोकि हमारे शरीर के प्रत्येक अंग मेंपलPम रक्त के साथ मिलकर हमें मार देता है कुछ ही क्षणों में रक्त के सापापथ अभिक्रिया करके हम को खत्म कर देता है जब सांप काट लेता है दरअसल आपको बता दे सांप काटने के इनसे नसों और रक्त धमनियों को नुकसान पहुंचने और संक्रमण होने का खतरा रहता है।

कभी-कभी यह खतरा अधिक भी हो जाता है जिसके कारण व्यक्ति की तुरंत मौत ही जाती है। आज हम सांप काटने पर बचने के उपाय के बारे में इस पोस्ट में जानते है.

आपको बता दें कि हमारे भारत देश में 83 हज़ार लोगों को सांप काट लेने पर 11 हज़ार जनों की मौत हुई थी, इस सर्वे के अनुसार पूरे विश्व में भारत में सबसे ज्यादा सांप काटने जाते हैं जिसके कारण लोग व्यक्ति भी काफी अधिक मात्रा में हो जाती है।

इसका कारण होता है प्राथमिक उपचार, लोगों को प्राथमिक उपचार नही मिल पाता है आज हम आपको कुछ ऐसे उपचार के बारे में बताएंगे जिन्हें आप तुरंत करके अपनी जान बचा सकते हैं.

सांप काटने पर करें तुरंत यह काम

  1. अगर आपको गलती से कोई सांप काट लेता है आप सर्वप्रथम आप चिकिसक की परामर्श लें, अगर सम्भव हो सके तो, वरना हमारे बताये तरीको को आजमाएं
  2. जब आपको सांप काट लेता है तो आपको घबराना बिल्कुल भी नही है। और उसी समय हमको तुरंत एक्शन लेने चाहिए, इसके लिए हमको सर्वप्रथम उस स्थान को कोई सही तरह से भाँप लेना है उसके बाद उस स्थान से ऊपर 3-4 इंच ऊपर आप किसी रस्सी की मदद से जितना हो सके उतना कसजर बांध दीजिये
  3. कसकर बांध लेने के बाद उस स्थान को किसी ब्लेड से कट लगाकर उसमे से आप खून को अपने मुंह या किसी की मदद से उस रक्त को बाहर खींचकर निकले, इस पूरी पिरक्रिया में यह ध्यान रहे कि उस स्थान से निकला खून आपके पेट में न जा पाए।
  4. सांप के काटने के बाद आप उस सांप की प्रजाति के बारे में पता लगाएं। उसके बाद आप उस सांप के बारे में चिकित्सक को बताएं।
  5. अगर मरीज ने शरीर पर कोई गहना पहना हुआ है या जूते-चप्पल पहने है। तो उनको तुरंत उतार दीजिये जिसके कर। जहर शरीर से अभिक्रिया न करें।
  6. मरीज को बिल्कुल भी न चलने-फिरने दे क्योंकि रगड़कर चले के कारण शरीर में खून ज्यादा अधिक फैलता है। इसके कारण से रक्त शरीर में नही फैलता है।
  7. अगर आप किसी दवा के बारे में नही जानते है तो आप उस मरीज को बिना किसी परामर्श के उसको एस्प्रिन या कोई एंटीबॉयोटिक दवा न दे। जिससे कि सही असर के चक्कर में गक्त फर्क पड़ जाए।
  8. अगर मरीज के जख्म अधिक बड़ा है तो आप उस घाव के साथ छेड़छाड़ न करें। क्योंकि अधिक छेड़छाड़ से जख्म और भी बढ़ सकता है।
  9. सांप काट लेने के बाद आप वेद से सम्पर्क कर सकते है या फिर तुरंत ही ाकिशन ले सांप  उसको पकड़ सके तो पकड़ लीजिये जिसकी वजह से चिलितसक को सही जानकारी हो सके , चिक्तिसक को सही और सम्पूर्ण जानकारी दे और जितना हो सके उतनी सही जानकारी दे जिसकी  आप का सही वख्त पर इलाज हो सके।
  10. ऐसी तरह की समस्या होने पर हमे हिम्मत से काम लेना चाहिए और तुरंत ऐसी दवाइयों को सेवन करने के लिए जानकारी से या किसी डॉक्टर या वेद्द की परामर्श के अनुसार ही विषरोधक जड़ी बूठि का सेवं करे

सांप काट लेने के बाद  न करे इन चीज़ो को

सांप काटने पर बचने के उपाय1

  • आपको बता दे अगर आपको सांप काट ले तो आपको बिलुल भी खट्टी चीज़ो का सेवन करे , न ही मरीज को पानी पिलाना है
  • सांप काट लेंवे तो मरीज को गर्म चीज़ो जैसे चटपटी चीज़ो का सेवन नहीं करना चाजिये  जिसकी क्युकी अधिक चिरपिरि या तीखी चीज़ो के सेवन से मरीज को रैकिट में जलन हो सकती है
  • अगर मरीज कको सांप ने काट लिया है तो उसको विश्वास बढ़ाने की कोशिश करे न की ऐसा की मरीज को उसकी वजह से घबराकर ही  मौत हो जाए
  • मरीज को तुरंत ही कुछ भी  खिलाये न ही कुछ भी पिलाये जब तक चिकत्सक आपको उस चीज़ के बारे में इजाजत न दे दे , न ही मरीज को किसी भी प्रकार की गोलिया दे न ही किसी भी प्रकार की दवा दे हमशा ड़याँ रखे की डॉक्टर आपको जी परामर्श दे उसी के बारे में ही चर्च

यह सभी उपाय आप जितना हो सके तुरंत ही करें वरना आपको इसके अधिक देर होने के कारण मरीज की मौत भी हो सकती है। आप जितना जल्दी हो सके आप अपने मरीज को अस्पताल या हॉस्पिटल तक पहुचाये या किसी उचित जानकर से इसका इलाज कराये। सांप काट लेता है तो इसमें आयुर्वेदिक दवाइया अधिक जल्दी कार्य करती है। इससे बचने के कारण आप आयुर्वेदिक अपनाएं।

नोट - यहां पर दी गई जानकारी केवल एक सलाह के तौर पर है। हम इनमें से किसी भी उपचार को आजमाने के लिए आप पर किसी प्रकार का कोई भी दबाब नहीं बना रहे हैं। अतः आपसे निवेदन है कि किसी भी उपचार को अपनाने से पहले किसी डॉक्टर अथवा विशेषज्ञ से परामर्श अवश्य लें।

संपादक
मैं इस साइट का संपादक और वेबमास्टर हूं, जो आपको स्वास्थ्य और कल्याण पर सबसे अच्छी सामग्री ला रहा है। यदि आप हमारी साइट पर पोस्ट करना चाहते हैं तो हमें लेख भेजें Write for Us

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

प्रदूषण की मार से बचने के लिए अपनाएं ये 10 घरेलू नुश्खे

हमारे देश में प्रदूषण की मात्रा दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। हर तरफ प्रदूषण का प्रकोप साफ देखा जा सकता है। जिसके कारण...

चर्म रोग का इलाज

आपको अगर चर्म रोग है, तो इस बीमारी के कारण कई तरह की परेशानी झेलनी पड़ती है। बारिश  या फिर गर्मी के मौसम में...

दुख भरे शायरी- Dukh Bhari Shayeri

दुख भरे शायरी/ Girlfriend Se Dhoka ShayariGirlfriend Se Dhoka Shayari/ Bicharne Waley Shayeri/ Dil Tutne Ki Shayeri/ Pyaar Mein Dhoka/ Pyaar Ke Intezar Mein...

Chehare ke kaale daag dhabbe hatane ke gharelu upay

क्या आपके चेहरे पर दाग धब्बे, मुँहासे के निशान और त्वचा की चमक भी मुहासे होने के कारण आपको अच्छा नहीं लग रहा है...

Love SMS in Hindi for Boyfriend- Romantic SMS in Hindi for Boyfriend

Love SMS in Hindi for Boyfriend/ Romantic Shayari in Hindi for Boyfriend/ Love msg in Hindi for Boyfriend/ Romantic SMS in Hindi for Boyfriend/ True...

लम्बा होने की दवा हिंदी में “Lamba Hone Ki Dawa in Hindi”

क्या आप अपने औसत या छोटे हाइट को लेके परेशान हैं? लेकिन इस भाग दौड़ की ज़िन्दगी में आपके पास व्याम करने का इतना समय...