होम Fitness घरेलू नुस्खे इन हिंदी फॉर वेट लूस “Gherluu Nuskhe in Hindi for...

घरेलू नुस्खे इन हिंदी फॉर वेट लूस “Gherluu Nuskhe in Hindi for Wight Loss”

मोटापा न केवल आप की पर्सनालिटी (pesonaloty ) खराब करता है बल्कि कई बीमारियों का कारन भी

बनता है . वजन कम करना कोई आसान काम नहीं है. मोटापा कम करने के उपाय तो बहुत है पर सब से

जरुरी है सही समय पर और सही तरीके से भोजन खाना , पाचन ठीक न होना मोटापा बढ़ने का कारन

बनता है . अगर आपने ये फैसला कर लिया है की आप को अपना वजन कम करना है तो सबसे पहले

आपको अपनी जीवन शेल्ली पर ध्यान देना होगा . वेट कम करने के भुत से देसी तरीके है जैसे की

एक्ससरसिसे (exercise) , योग और संतुलित भोजन . इस लेख में आप जानेंगे की वेट कम कैसे करे

.पानी (Water)-

पानी को हमेशा सिप सिप कर क पीना चाहिए , कभी भी पानी गटागट नहीं पीना , पानी हमेशा वैसे पिए

जैसे आप गरम दूध या गर्म चाय पीते है , क्युकी हमारे मुंह में हर समय लार (saliva) बनती hai और हमारे

पेट में har समय अमल (acid) बनता है और जब मुंह की लार पेट में जाती है तब ये अमल को अन्य

उत्तेजित कर देता है ताकि एसिड बन्ने न पाए अब अगर हम पानी को हम सिप सिप कर के पिए तो जद

मात्र में लार पेट में जाएगी जिससे पेट में एसिड नहीं बनेगा जिससे हमारे खाने को पचने में जद हेल्प

मिलती है और हमारी पाचन किर्या ठीक से होने से जद वेट वाले लोगो को वजन कम करने में मदद

मिलती है .

कब कितना और कैसे पिए :-“KAB KITNA AUR KAISE PIYE”

3 से 4 लीटर पानी हर रोज ले .

सुबह उठते ही खली पेट हल्का गरम पानी जरूर पिए .

फ्रीज का ठंडा पानी कभी नहीं पीना चाहिए .

कहना खाने के आधे घंटे पहले पानी पिए और कभी भी खाना खाने के बाद 40 मिनट तक पानी नहीं ले .

शहद (Honey)-

हर रोज 1 गिलास पानी में 2 चमच शहद मिला कर पिए , इससे बॉडी में वसा कम होती है और साथ में

मोटापा भी कम होता है

ग्रीन टी से मोटापा कम करने के टिप्स –

जो चाय हम पीते है वो हमारी पाचन शक्ति को कम करती है अगर आप दूध वाली चाय पिने की जगह

ग्रीन टी पिए तो ये आप को फैट कम करने में हेल्प करेगा .

रात को सोने के आधा घंटा पहले 1 कप ग्रीन टी जरूर पाई

अजवाइन (Celery) –

वेट कम करने में अजवाइन (celery) बहुत कारगर साबित हुआ है . अजवाइन के सेवन से पेट की चर्बी कम

होती है , अजवाइन में Behad कम calary , fibre , कैल्शियम और विटामिन C होता है जो पेट की चर्बी काम

करने में काफी फायदेमंद सब्बित हुआ है . कहना khane से पहले अजवाइन का पानी पीने से हमारा पाचन

तंत्र हमेशा सही रहता है

योग से वेट लोस्स करे –“YOG SE WEIGHT LOSS KARE”

हर रोज अगर हम ठीक से परनयम करे तो मोटापे को कम कर सकते है .

हर रोज आधा घंटा अनुलोम विलोम ( 15 मिनट सुबह और 15 मं शाम ) करे .

हर रोज एक घंटा (आधा घंटा सुबह और आधा घंटा शाम ) कपालभाति कर

मूली का रस-“MULI KA RASS”

विंटर सीज़न ( winter season ) में मूली लेके रस निकल ले और आधा कप रस में तोडसा शहद मिला के खाली पेट

पिए जिस प्रयोग से पेट का चर्बी पिघल जाएगा.

फलों का सेवन –“FALO KA SEWAN”

पेट की चर्बी कम करने मई फलों का सेवन भी मददगार होता है . फलों का नियमित सेवन करने से पाचन

क्रिया भी सही होती है और बीमारिया भी दूर रहती है .

तरबूज :-

पेट की चर्बी कम करने के लिए तरबूज एक बहुत ही आसान और कारगर उपाय है . इसमें 90 प्रतिशत तक

पानी होता है . इसलिए इसे खाना कहने से पहले खाना चाहिए . इससे आप भरा हुआ महसूस करते है . इसमें

विटामिन b1, b6, विटामिन c, पोटासियम , मैग्नीशियम पर्याप्त मात्र मे होते है . कुछ सोधो के अनुसार हर

रोज दो गिलास तरबूज का जूस पिने से आठ सप्ताह मे पेट के आसपास की चर्बी घाट जाती है .

अनानास :-“ANNANAS”

अनानास की मदद से भी आप पेट की चर्बी को कम कर सकते है . इसमें ब्रोमेलै नमक एंजाइम पाया जाता

है . यह तत्त्व पेट की चर्बी को kam करने मे मददगार है .

सेवफल :-“SEVFAL”

“ eating an apple a day keep doctors away : यह कहावत तो आप सभी ने सुनी होगी . हम आपको बताना

चाहते है की सब के सेवन से ना केवल बीमारिया दूर होती है लेकिन यह एक बेहतरीन फैट बर्निंग फूड्स

(burning foods ) मे से भी एक hai.

लहसुन का प्रयोग – रोज सुबह के वक्त दो काली लहसुन की खाये और फिर उसके baad निम्बू पानी पी ले .

इससे वजन घटने की क्रिया doguni हो जाती है और शारीर मे रक्त संचार अच्छी तरह होने लगता है .

काली या लाल मिर्च का प्रयोग – एक शोध के अनुसार मिर्ची खाने से भी वजन कम होता है . हरी या काली

मिर्च mai पाए जाने वाले तत्त्व कैप्साइसिन से भूख कम होती है . इससे ऊर्जा ki खपत भी बढ़ जाता है ,

जिससे वजन कंट्रोल मे रहता है .

सूखे मेवे भी फायदेमंद “SUKHE MEVE BHI FAYEDEMAND”

सूखे मेवे मे badam मे अच्छी मात्र मे स्वास्थवर्धक फैट मौजूद होता है . Isme मौजूद पोलयसतुरतेद और

मोनोँसतुरतेद फैट ओवरईटिंग से बचत है . दरहसल बादाम भूख को दबने का काम करता है . साथ ही यह

दिल सम्बन्धी बीमारियों को दूर रखने मे भी मददगार है .

इसमें हाई फाइबर की मौजूदगी होती है जो आपको लम्बे समय तक भूख का एहसास nahi होने देती है .

ऐसे मे अगर आप चर्बी badhane वाले snacks khate है तो उसकी जगह रोस्टेड बादाम का इस्तेमाल शुरू

कर दे .

जल्दी से जल्दी वेट लूस करने वाली दवाइयों से बच्चे इन प्रयोगों को करने में आपको समय lag सकता है लेकिन

अगर आप नियमित रूप से ये करते रहे तो आपको अवश्य सफलता मिलेगी

नोट - यहां पर दी गई जानकारी केवल एक सलाह के तौर पर है। हम इनमें से किसी भी उपचार को आजमाने के लिए आप पर किसी प्रकार का कोई भी दबाब नहीं बना रहे हैं। अतः आपसे निवेदन है कि किसी भी उपचार को अपनाने से पहले किसी डॉक्टर अथवा विशेषज्ञ से परामर्श अवश्य लें।

संपादक
मैं इस साइट का संपादक और वेबमास्टर हूं, जो आपको स्वास्थ्य और कल्याण पर सबसे अच्छी सामग्री ला रहा है। यदि आप हमारी साइट पर पोस्ट करना चाहते हैं तो हमें लेख भेजें Write for Us

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सफ़ेद बालो का इलाज़

हमारे सिर के बाल बिना समय के  ही सफ़ेद हो जाते हैं. यह हमारे लिए एक बड़ी समस्या बन चुकी है. सफ़ेद होने के...

मानव शरीर से जुड़े इन आश्चर्यजनक तथ्यों के बारे में नहीं जानते होंगे आप

हमारे शरीर से जुडी कई ऐसी जानकारियां ऐसी हैं जिन्हें अभी तक विज्ञान भी नहीं समझ पाया है या यू कहें कि इनके सामने...

सम्भोग के समय योनि में दर्द क्यों होता है

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका एक बार फिर से हेल्थ टिप्स हिंदी वेबसाइट के नए अंक में इस वेबसाइट के द्धारा आप अपनी किसी...

पीरियड्स के दौरान औरतों को परेशान करती हैं ये समस्याएं

महिलाओं की जिंदगी में पीरियड्स का एक अहम हिस्सा है। सही समय पर पीरियड्स ना आएं तो इससे सेहत से जुड़ी बहुत सी परेशानियां...

अस्थमा का उपचार

अस्थमा एक श्वास संबंधी बीमारी है | अस्थमा के रोगियों को   मौसम परिवर्तन की  कई समस्याओ का सामना करना पड़ता है| इतना ही नही अस्थमा...