होम Health रूखी त्वचा (ड्राई स्किन) से आसानी से पाएं छुटकारा

रूखी त्वचा (ड्राई स्किन) से आसानी से पाएं छुटकारा

कई तरह की स्किन टाइप्स होतीं हैं और सभी स्किन टाइप्स की अपनी समस्या होती है, लेकिन ड्राई स्किन की समस्या सबसे ज़्यादा दिक्कत देती है।

विज्ञापन

रुखी त्वचा यानी की ड्राई स्किन को बहुत सी देखभाल की जरुरत होती है क्योंकि इससे कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

इस बात में कोई संदेह नहीं है कि खूबसूरत त्वचा हर किसी को अपनी ओर आकर्षित करती है लेकिन खासकर सर्दियों के मौसम में त्वचा रूखी, बेजान और कांतिहीन होकर अपनी रौनक खो देती है।

ऐसे में जरूरी है कि समय रहते ही इसका इलाज कर लिया जाए नहीं तो रुखी त्वचा एक सुंदर और आकर्षक चेहरे को बेजान, कांतिहीन और खुरदरे चेहरे में बदल सकती है। शायद आपको पता नहीं होगा कि नमी की कमी के कारण रूखी त्वचा पर झुर्रियां जल्दी पड़ती हैं इसीलिए इसको खास देखभाल की जरुरत होती है।

हालांकि रूखी त्वचा से निदान पाने के लिये बाजार में कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स और बॉडी लोशन उपलब्ध हैं, पर इनमें से कुछ ही हैं जो कारगर होते हैं और जिनके कोई साइड इफेक्ट्स नहीं हैं।

तो आइये आज हम आपको रुखी त्वचा यानी कि ड्राई स्किन से बचने के कुछ खास टिप्स बताने जा रहें हैं जिन्हें आप अपने रूटीन में शामिल कर अपनी रूखी त्वचा को कोमल और मखमली रख सकती हैं।

जानें क्यों होती है त्वचा रुखी और बेजान-

सर्दियों के मौसम में रुखी त्वचा (ड्राई स्किन) होना एक मुख्य समस्या है। क्योंकि इस मौसम में त्वचा की प्राकृतिक नमी नष्ट हो जाती है और त्वचा रूखी और बेजान हो जाती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि त्वचा की पहली परत यानी एपिडर्मिस पर मौसम का प्रभाव पड़ता है तो एपिडर्मिस में सिकुड़न आती है तो हमारी कोशिकाओं में टूट-फूट होती है और महीन लकीरों में उभर कर
त्वचा पर दिखने लगती हैं। जिन्हें हम रिंकल यानी झुर्रियों कहते हैं। इस वजह से मौसम और उम्र का असर सबसे पहले आपके चेहरे पर ही नजर आता है। लेकिन अगर हम सर्दियों में त्वचा की देखभाल का पूरा ध्यान दें तो इस समस्या से आसानी से निपटा जा सकता है।

जानें क्या हैं त्वचा के रूखेपन के कारण-

रुखी त्वचा (ड्राई स्किन) के कई कारण हो सकते हैं लेकिन अक्सर ये समस्या मौसम में परिवर्तन, वातावरण में बढ़ते प्रदुषण और बढ़ती उम्र के कारण होती है। जबकि कुछ लोगों में ये समस्या जीन्स के कारण यानी की जन्म से भी हो सकती है। इसके अलावा रुखी त्वचा (ड्राई स्किन) के कुछ अन्य कारण इस प्रकार हैं-

  • बहुत कम पानी पीने के कारण
  • पेट में गडबड़ी के कारण
  • स्किन की ठीक से सफाई ना करने के कारण
  • ज्यादा तेज़ गर्म पानी को नहाने या हाथ-मुंह धोने में इश्तेमाल करने के कारण
  • हमेशा तानावग्रस्त रहने के कारण
  • ज्यादा समय तक सूर्य की रौशनी में रहने के कारण
  • अत्यधिक प्रदूषण जैसे धूल, धुंआ और मिट्टी के सम्पर्क में ज्यादा देर तक रहने के कारण

रुखी त्वचा (ड्राई स्किन) से निजात पाने के तरीके-

  • चेहरे और स्किन को हमेशा साफ रखें। चेहरे को पोंछने के लिए नर्म तौलिये का प्रयोग करें।
  • बहुत ज्याेदा गरम पानी को नहाने और हाथ-मुंह धोने में प्रयोग करने के बजाए हल्केज गरम पानी का प्रयोग करें।
  • चेहरे व शरीर पर अच्छी क्वालिटी की विटमिन-ई युक्त क्रीम का इस्तेमाल करें।
  • मॉयस्चराइजर का प्रयोग नियमित रूप से करें। त्वचा को मुलायम बनाने के लिए रात के समय एंटी रिंकल क्रीम लगाएं।
  • महीने में एक बार फेशियल जरूर करवाएं तथा घर पर हफ्ते में दो बार नमी बेस फेस मास्क लगाएं।
  • नींद ना लेने की वजह से चेहरे पर रूखापन आ जाता है। इसीलिए हमेशा 8 घंटे की नींद जरुर लें।
  • अपनी डाइट में कुछ किस्म के मसाले जैसे, हल्दीे, जीरा और धनिया शामिल करें।
  • कोई ना कोई एक्सुरसाइज जरुर करें। क्योंकि जब आप एक्सदरसाइज करते हैं तब आपको पसीना होता है और इससे आपके रोम छिद्र खुल जाते हैं। यह आपके चेहरे को नमी प्रदान करता है।
  • स्मोेकिंग करना त्वकचा के लिये हानिकारक है यह त्वहचा को और रूखा बना देता है।
  • भोजन में फल, हरी सब्जियां, जूस का सेवन करें।
  • जितना हो सके तनावमुक्त रहने की कोशिश करें।
  • प्रतिदिन कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पीएं।
  • दूध और दूध से बनी चीजें खूब लें।
  • अपने चेहरे को प्रदूषण और धुल मिट्टी से सुरक्षित रखने के लिए घर से बाहर निकलते वक़्त सनस्क्रीन का उपयोग करें। सर्दियों में, जब हवा ठंडी और शुष्क होती है, तो बाहर निकलने के पहले अपने चेहरे के निचले आधे हिस्से को स्कार्फ़ से ढक कर निकलें।
विज्ञापन

नोट - यहां पर दी गई जानकारी केवल एक सलाह के तौर पर है। हम इनमें से किसी भी उपचार को आजमाने के लिए आप पर किसी प्रकार का कोई भी दबाब नहीं बना रहे हैं। अतः आपसे निवेदन है कि किसी भी उपचार को अपनाने से पहले किसी डॉक्टर अथवा विशेषज्ञ से परामर्श अवश्य लें।

संपादक
मैं इस साइट का संपादक और वेबमास्टर हूं, जो आपको स्वास्थ्य और कल्याण पर सबसे अच्छी सामग्री ला रहा है। यदि आप हमारी साइट पर पोस्ट करना चाहते हैं तो हमें लेख भेजें Write for Us

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

गर्भावस्था के दौरान इन बातों का ध्यान जरुर रखें

सबसे पहले तो आपको अपनी गर्भावस्था पर बधाई। गर्भधारण करना हर महिला के जीवन में काफी मायने रखता है खासकर तब जब वो पहली...

गर्भावस्था और डिप्रेशन का क्या संबंध है ?

गर्भावस्था और डिप्रेशन (Antenatal depression) का क्या संबंध है ? इस सवाल के बारे में आपने कभी सोचा है ? गर्भावस्था के दौरान विभिन्न...

जाने वासना, प्रेम व मोह के बीच फर्क

नए रिश्तो में आगे बढने से पहले हमें रिश्तो से संबंधित कुछ जरुरी बाते जैसे वासना प्रेम तथा मोह के बीच के अंतर को...

हमारे दिमाग के बारे में 30 बाते जो हम नहीं जानते

इंसान अपने दिमाग का उपयोग तो हर जगह करता है लेकिन इंसानी दिमाग के बारे में ऐसी कुछ बाते है जो अधिकतर लोग अभी...

पतला होने की दवा हिंदी में “Patla Hone Ki Dawa in Hindi”

आज कल की इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में हमें अपने सरीर का ख्याल रखने का वक्त ही नहीं मिलता और बिना किसी रूटीन...

नारियल तेल और बेकिंग सोडा मिलाकर झुर्रियों को जड़ से करें खत्म

आपके घर में कई ऐसी चीजें मौजूद होती हैं, जिनके कई ब्यूटी फायदे हैं। ऐसा ही कुछ है नारियल तेल और बेकिंग सोडा। इसके...

होंठों का कालापन दूर करने के घरेलु उपाय । Honto Ka Kalapan Dur Karne Ke Upay

आज हम होंठों का कालापन दूर करने के कुछ घरेलु उपाय जानेंगे दोस्तों होंठ चेहरे का सबसे इम्पोर्टेन्ट पार्ट है अगर आपके होंठ रूखे...

शाकाहारी प्रोटीन से भरपूर हैं ये 6 चीजें अंडों और नॉनवेज से ज्यादा होती है इनमें प्रोटीन की मात्रा

प्रोटीन हमारे शरीर के विकास के लिए बहुत जरूरी होता है। शरीर में प्रोटीन की मात्रा में कमी होने पर शरीर का विकास अच्छी...