होम Nature सर्दियों के मौसम में बीमारियों से बचने के लिए जरूर खाएं ये...

सर्दियों के मौसम में बीमारियों से बचने के लिए जरूर खाएं ये फल

सर्दियों का मौसम शुरू हो चुका है। खाने-पीने का जैसा मजा सर्दियों में है, वैसा किसी दूसरे मौसम में कहां। इस मौसम में फल और हरी सब्जियों की भरमार होने के साथ खाद्य-पदार्थों की ढ़ेरों वैराइटियां मौजूद होती हैं।

विज्ञापन

लेकिन इन सब के अलावा सर्दियों में चलने वाली शुष्क सर्द हवाएं और वातावरण में मौजूद वायरस ना सिर्फ हमारी प्रतिरोधक क्षमता पर असर डालते हैं, बल्कि सर्दी, जुकाम और वायरल जैसी बीमारियों के प्रति हमें संवेदनशील भी बनाते हैं।

ठंड के मौसम में सर्दी के असर से बचने के लिए लोग गर्म कपड़ों का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन शरीर को ठंड से लड़ने के लिए शरीर में अंदरूनी गर्मी होनी चाहिए।

सर्दियों के मौसम में यदि खानपान पर विशेष ध्यान दिया जाए तो शरीर संतुलित रहता है और सर्दी भी कम लगती है। साथ ही हम कई संक्रामक बीमारियों की चपेट में आने से भी बचे रह सकते हैं।

सर्दियों के मौसम में हमारी पाचन प्रक्रिया अन्य मौसमों की अपेक्षा ज्यादा अच्छी रहती है। इसीलिए इस मौसम में प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर बनाना आसान होता है। सर्दी के मौसम में खांसी-जुकाम और अन्य रोगों से बचने के लिए जरूरी है कि हमें अपने आहार में पौष्टिकता से भरपूर चीजों को प्रमुखता से शामिल करना चाहिए।

फल शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने और रोगों से लड़ने के लिए इम्यूनिटी पॉवर और शरीर की चयापचय क्षमता (मेटाबॉलिज्म) को बूस्ट करते हैं। इस मौसम में अनेक ऐसे फल हैं जो आपके शरीर को भरपूर पोषण प्रदान कर सकते हैं।

तो चलिये आज हम आपको सर्दियों में खाये जाने वाले सबसे अच्छे फलों के बारे में जानते हैं।

Quick Tips

सेब (Apple)

विज्ञापन

सेब

बचपन से हम सबने एक कहावत सुनी है कि- “एन एप्पल अ डे, कीप्स डॉक्टर अवे” अर्थात् एक सेब रोज खाओ और डॉक्टर को दूर भगाओ। ये वाकई सच है कि सर्दियों में भी हर रोज एक सेब खाने से कई तरह की बीमारियों के होने की आशंका काफी कम हो जाती है।

इसमें पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट और बीमारियों से लड़ने वाले तत्व पाए जाते हैं। जो ना केवल कई रोगों से लड़ने में हमारी मदद करते हैं बल्कि हमारे शरीर को भी स्वस्थ्य रखते हैं। सेब के सेवन से ह्रदय रोग, कैंसर, मधुमेह के साथ ही दिमागी बीमारियों जैसे अल्जाइमर आदि में भी आराम मिलता है।

अनार (Pomegranate)

अनार

अनार खाना स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है ये तो सभी जानते हैं। ये फाइबर, विटामिन-सी और विटामिन-के का एक बहुत अच्छा माध्यम है। खून की कमी के रोगियों के लिए अनार का सेवन उपयोगी है।

अनार के दानों में पॉलीफिनॉल होता है जो सूजन से लड़ने में भी मदद करता है शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। अनार का सेवन करने से दिल से जुड़ी बीमारियों से भी बचा जा सकता है। साथ ही इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है और सेक्स लाइफ को भी खुशहाल बनाता है।

ये ना केवल सेहत के लिए बल्कि चेहरे में निखार और सुंदर बनाने में अहम भूमिका निभाता है।

खट्टे फल (Citrus Fruits)

खट्टे फल

खट्टे फलों की श्रेणी में आने वाले संतरे, कीनू और कीवी आदि में विटामिन-सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। सर्दियों में इन साइट्रस फलों को अपनी दिनचर्या में जरूर शामिल करें। विटामिन-सी, पोटैशियम और बीटा कैरोटीन से भरपूर इन फलों के कई स्वास्थ्य लाभ हैं।

इनके नियमित सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में बढोतरी होती है, जिससे वायरल संक्रमण से होने वाले जुकाम-खांसी, फ्लू, वायरल जैसे रोगों से बचाव होता है।

अमरूद (Guava)

विज्ञापन

अमरूद

सर्दियों में अमरूद खाने के कई फायदे हैं। इनमें मौजूद पौष्टिक तत्व हमारे शरीर को स्वस्थ और एक्टिव रखने के साथ-साथ इम्यूनिटी बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। डायबिटीज के मरीजों के लिए भी ये काफी लाभदायक होते हैं।

इनमें फोलेट की अच्छी मात्रा होती है, जो महिलाओं में प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में सहायक है। इसमें मौजूद पेक्टिन फाइबर पाचन बढ़ाने और भूख में सुधार करने में मदद करता है।

साथ ही अमरूद में आयोडीन अच्छी मात्रा में पाई जाती है, जिससे थायरॉइड की समस्या में लाभ होता है। इसके सेवन से शरीर का हार्मोनल संतुलन रहता है।

अंगूर (Grapes)

अंगूर

अंगूर में कैलोरी, फाइबर के साथ-साथ विटामिन-सी, विटामिन-ई और विटामिन-के भरपूर मात्रा में पाये जाते हैं जो कि हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं।

इसमें काफी मात्रा में आयरन पाया जाता है जिसके कारण अंगूर शरीर में खून की कमी को पूरा करता है। क्यूंकि ये कोलेस्ट्रॉल कम करने में सक्षम है इसीलिए अंगूर के सेवन से हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है।

कीवी (Kiwi)

कीवी

कीवी को विटामिन्स का राजा भी कहा जाता है। इस फल में विटामिन-सी की मात्रा अधिक होने के कारण ये शरीर को कई रोगों से निजात दिलवाने में मदद करता है। कीवी फल का सेवन करने से हृदय रोगों से निजात मिलती है। कीवी फल खाने से ब्लड शुगर कम हो जाती है और इससे दिन भर की थकान से भी छुटकारा मिलता है।

ये फल डायबिटीज के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होती है। कीवी फल कैंसर जैसे रोग से राहत दिलवाता है। डेंगू फीवर में प्लेटलेट्स कम होने पर कीवी बहुत लाभदायक है।

सिंघाड़ा (Shinghada)

विज्ञापन

सिंघाड़ा

सिंघाड़ा सर्दियों में खाये जाने वाले सबसे अच्छे फलों में से एक है। इस मौसम में ये हर जगह आसानी से उपलब्ध भी होता है। इसमें साइट्रिक एसिड, एमिलोज, कर्बोहाइड्रेट, टैनिन, बीटा-एमिलेज, प्रोटीन, फैट, निकोटेनिक एसिड, रीबोफ्लेविन, थायमाइन, विटामिन-ए, विटामिन-सी, मैगनीज तथा फास्फोराइलेज आदि होते हैं।

ये सब हमारे शरीर को मौसमी बीमारियों से बचाते हैं और शरीर को गरम रखते हैं जिससे हमें सर्दी नहीं लगती है।

शकरकंद (Sweet Potato)

शकरकंद

स्वीट पोटैटो यानी कि शकरकंद में विटामिन-ए और विटामिन-सी अच्छी मात्रा में पाया जाता है। साथ ही शकरकंद डायट्री फाइबर और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर होती है। क्योंकि ये विटामिन्स शरीर को गर्म रखते हैं, इसलिये सर्दियों में इनका सेवन बेहत फायदेमंद होता है।

विज्ञापन

नोट - यहां पर दी गई जानकारी केवल एक सलाह के तौर पर है। हम इनमें से किसी भी उपचार को आजमाने के लिए आप पर किसी प्रकार का कोई भी दबाब नहीं बना रहे हैं। अतः आपसे निवेदन है कि किसी भी उपचार को अपनाने से पहले किसी डॉक्टर अथवा विशेषज्ञ से परामर्श अवश्य लें।

संपादक
मैं इस साइट का संपादक और वेबमास्टर हूं, जो आपको स्वास्थ्य और कल्याण पर सबसे अच्छी सामग्री ला रहा है। यदि आप हमारी साइट पर पोस्ट करना चाहते हैं तो हमें लेख भेजें Write for Us

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

बवासीर के लिए घरेलू उपचार

बवासीर या पाइल्स एक खतरनाक बीमारी है।गुदा-भाग में वाहिकाओं की वे संरचनाएं हैं जो मल नियंत्रण में सहायता करती हैं।जब वे सूज जाते हैं...

मोटापा कम करने के टिप्स “Moatapa Kam Karne Ke Tips”

आज समाज में एक गम्भीर बिमारी का रूप ले रहा मोटापा जिससे समाज का हर 5वा व्यक्ति ग्रसित हैमोटापे से आप की काम करने...

लड़की को कैसे अट्रैक्ट करे – Ladakee ko Kaise Atraikt Kare

आज के वक्त में हर लड़का चाहता है की उसकी एक गलफ्रेंड हो। पर हर कोई इतना लकी नहीं होता और उन्हें गलफ्रेंड नहीं...

पीलिया क्या है इसके कारण क्या है, लक्षण, उपाय

आपको बता दे पीलिया रोग हर किसी उम्र में हो सकता है इस रोग में लोगो के शरीर का रक्त लाल से पीला पड़ जाता है...

अस्थमा का उपचार

अस्थमा एक श्वास संबंधी बीमारी है | अस्थमा के रोगियों को   मौसम परिवर्तन की  कई समस्याओ का सामना करना पड़ता है| इतना ही नही अस्थमा...

गर्भावस्था के दौरान इन बातों का ध्यान जरुर रखें

सबसे पहले तो आपको अपनी गर्भावस्था पर बधाई। गर्भधारण करना हर महिला के जीवन में काफी मायने रखता है खासकर तब जब वो पहली...

लम्बाई बढ़ाने (Height Increase) के घरेलु उपचार

जिनका height औसत तथा ज़रुरत से छोटा हैं वो अक्सर निराश हो उठते हैं और अपने height को कैसे बढ़ाए इस सोच में पढ़...